HealthWhite fungus क्या है , लक्षण और बचाव

White fungus क्या है , लक्षण और बचाव

Join Telegram

White fungus रोग के संक्रमण के लक्षण , कारण और उपचार

  • वाइट फंगस White fungus के लक्षण कोरोना से मिलते जुलते हैं , वाइट फंगस मस्तिष्क और फेफड़ों पर असर डालते हैं।
  • विशेषज्ञों के अनुसार वाइट फंगस ब्लैक फंगस से अधिक खतरनाक है क्योंकि वाइड फंगस शरीर के हर अंग को प्रभावित करता है

White fungus के लक्षण

  • इससे संक्रमित व्यक्ति के शरीर के जॉइंट्स में दर्द होने लगता है
  • यह ब्रेन को प्रभावित करता है जिससे व्यक्ति की सोचने विचारने की क्षमता पर इसका असर देखा जा सकता है
  • बोलने में समस्या होना
  • सिर में दर्द के साथ उल्टी होना
  • स्क्रीन में रक्त के जरिए फैलने पर छोटे-छोटे थोड़े हो सकते हैं
  • किसे हो सकता है वाइट फंगस
  • जिन लोगों की इम्यूनिटी कमजोर होती है और वे दूषित पानी और संक्रमित वनस्पतियों के संपर्क में आए तो उन्हें वाइट फंगस के संक्रमण का खतरा रहता है
  • जो कोविड संक्रमित गंभीर मरीज है उन्हें यह संक्रमण हो सकता है
  • जो लोग डायबिटीज के मरीज है या फिर वे लंबे समय से स्टेरॉयड ले रहे हैं इन्हें इसका खतरा है
  • कैंसर के मरीज भी इस संक्रमण से प्रभावित होते हैं

White fungus

White fungus रोग होने का कारण

  • ऑक्सीजन सिलेंडर से जुड़े ह्यूमिडिफायर में इस्तेमाल होने वाले नल के पानी में यह संक्रमण पाया गया है जिससे यह स्वस्थ व्यक्तियों को संक्रमित कर सकता है इसलिए ऑक्सीजन चढ़ाते समय सावधानी रखनी चाहिए
  • दूषित पानी और वनस्पतियों के संपर्क में आने से वाइट फंगस हो सकता है
  • अगर मुंह या नाक पर लगे उपकरण फंगल युक्त हो तब भी वाइट फंगस होने का खतरा रहता है !

White fungus का उपचार

  • अगर वाइट फंगस की बीमारी का पता शुरुआती दौर में चल जाए तो एंटीफंगल दवाओं से इसका इलाज शुरू किया जाता है ।
  • अगर मरीज की हालत गंभीर हो तो इसी के मुताबिक व्हाइट फंगस का इलाज किया जाता है

FAQ 

क्या सफेद कवक ठीक हो सकता है? Is white fungus curable?

डॉ सचदेवा ने कहा कि सफेद कवक आमतौर पर उपलब्ध दवाओं के साथ इलाज योग्य है और ब्लैक फंगस के मामले में महंगे इंजेक्शन की आवश्यकता नहीं है, न ही यह घातक है।

क्या सफेद कवक एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है? Is white fungus spreadable from person to person?

सफेद कवक ज्यादातर मामलों में संक्रामक नहीं है, क्योंकि यह सीधे एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैल सकता है। हालांकि, कवक की कुछ प्रजातियां मौजूद हैं जो त्वचा पर इस संक्रमण का कारण बनती हैं।

Join Telegram

Latest article

spot_img

More article