Yojanaराजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व लाभ |...

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व लाभ | Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana

Join Telegram

Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana Apply, राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना ऑनलाइन आवेदन, मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म

राजस्थान सरकार किसानों के लिए राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana चला रही है जिसके तहत किसानों को किसी भी प्रकार का हादसा होने पर सरकार द्वारा आर्थिक सहायता दी जाएगी, मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना से किसानों को अनेकों समस्याओं से राहत मिल जाएगी जिससे किसानों को खेती करने में आराम मिलेगा। इस लेख में हम जानेंगे राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना क्या है इसका उद्देश्य विशेषताएं पात्रता है महत्वपूर्ण दस्तावेज लाभ एवं आवेदन प्रक्रिया। अगर आप भी mukhymantri krishak Sathi Yojana 2022 का लाभ लेना चाहते हो तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 Rajasthan mukhymantri krishak Sathi Yojana 2022

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 24 फरवरी 2021 को की थी। इस योजना की घोषणा मुख्यमंत्री ने वित्त वर्ष 2021- 22 के बजट में की थी। इस योजना के तहत यदि किसान की मृत्यु हो जाती है या उसे किसी भी प्रकार से शारीरिक नुकसान हो जाता है तो उस स्थिति में सरकार द्वारा 5000 से लेकर ₹200000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

योजना का नाम राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना
किस ने लांच की राजस्थान सरकार
लाभार्थी राजस्थान के किसान
उद्देश्य दुर्घटना की स्थिति में किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट जल्द लॉन्च की जाएगी
वर्ष 2022
आर्थिक सहायता राशि ₹5000 से ₹200000 तक
योजना के लिए बजट 2000 करोड़ रुपए

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 के लाभार्थी

ई लाभार्थी की असमय मृत्यु हो जाती है तो मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की लाभ की राशि उसके पति या फिर पत्नी को मिलेगा। यदि लाभार्थी के पति या पत्नी नहीं है तो उस स्थिति में उनकी संतान को यह लाभ मिलेगा अगर लाभार्थी के कोई संतान नहीं है तो उनकी लाभ राशि उनके माता-पिता को दी जाएगी। लाभार्थी मिलने वाली राशि में किसी वारिस को भी मिलने वाले लाभ के लिए हकदार बना सकता है।

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के तहत लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया

यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो स्थिति में राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का लाभ लेने के लिए 6 महीने के अंदर अंदर आवश्यक दस्तावेज को संबंधित विभाग में जमा करवा दें तभी इसका लाभ मिलेगा 6 महीने से अधिक होने पर इसका लाभ नहीं मिलेगा। अगर लाभार्थी स्थाई आंशिक तौर से विकलांग हो जाता है तो उस स्थिति में मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का लाभ केवल आवेदक को ही मिलेगा किसी और को नहीं मिलेगा।

राजस्थान में कृषक साथी योजना 2022 का उद्देश्य

  • Mukhymantri Krishak sathi Yojana का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करता है।
  • इस योजना के तहत आवेदक की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो उसे सरकार के द्वारा ₹200000 तक का लाभ दिया जाता है।
  • इस योजना से किसान की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा और किसानों को किसी प्रकार की तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना को आरंभ करने की घोषणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 24 फरवरी 2021 को की थी।
  • अगर किसान की मृत्यु हो जाती है या किसी भी प्रकार की विकलांगता आ जाती है तो मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के तहत सरकार उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करती है। आर्थिक सहायता के रूप में राजस्थान सरकार किसान या किसान के परिवार को ₹200000 तक की आर्थिक सहायता देती है।
  • यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो 6 महीने के अंदर आवश्यक दस्तावेज संबंधित विभाग में जमा करवा दें। इस स्थिति में तो लाभ के पैसे परिवार को मिलेंगे। और अगर किसान आंशिक या पूर्ण रूप से विकलांग हो जाता है। आर्थिक सहायता किसान को ही मिलेगी।
  • Mukhymantri krishak Sathi Yojana का लाभ केवल 5 से 70 वर्ष के बीच वाले किसानों को ही मिलेगा। इस योजना का लाभ तभी ही मिलेगा जब किसान की मृत्यु या विकलांगता दुर्घटना से होती है।
  • इच्छुक व्यक्ति इस योजना में आवेदन ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों माध्यम से कर सकते हो इस योजना के लिए सरकार ने 2000 करोड का बजट पेश किया है।

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता

परिस्थिति आर्थिक सहायता
मृत्यु होने पर ₹200000
2 अंगों में विकलांगता (या तो 2 हाथ या 2 पैर या 2 आंख या 1 हाथ और 1 पैर) ₹50000
रीड की हड्डी का टूट जाना, सिर की चोट के कारण कोमा में जाना पर ₹50000
लाभार्थी के सिर के पूरे हिस्से के बालों की डी स्कैल्पइंग ₹40000
लाभार्थी के सर के कुछ हिस्से के बालों की डी स्कैल्पइंग ₹25000
1 अंग में विकलांगता आ जाने पर ( या हाथ या पैर या आंख या टखना) ₹25000
 4 उंगलियां कट जाने पर ₹20000
 3 उंगलियां कट जाने पर ₹15000
 2 उंगलियां कट जाने पर ₹10000
 1 उंगली कट जाने पर ₹5000
दुर्घटना के कारण फ्रैक्चर 5000

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 की पात्रता

इस योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति का किसान पंजीकृत होना जरूरी है।
यदि किसान की मृत्यु हो जाती है तो आर्थिक सहायता नॉमिनी को या फिर उसके परिवार के सदस्यों को मिलती है। लाभार्थी की उम्र 5 वर्ष से 70 वर्ष तक होनी जरूरी है। आत्महत्या या प्राकृतिक मृत्यु वाले किसान इस योजना में शामिल नहीं किए गए हैं।लाभार्थी की मृत्यु होने पर 6 महीने के अंदर अंदर उसका आवेदन करना जरूरी है।

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 दस्तावेज

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना में आवेदन करने के लिए निम्न दस्तावेज होना जरूरी है।

  • आयु प्रमाण पत्र
  • कार्यालय से प्राप्त भरा हुआ आवेदन पत्र.
  • एफईआर के साथ ही सपोर्ट पंचनामा पुलिस पूछताछ रिपोर्ट
  • आवेदक की मृत्यु होने पर उसका मृत्यु प्रमाण पत्र
  • रिपोर्ट – सब डिविजनल मजिस्ट्रेट की केस स्वीकृति
  • विकलांगता के मामले में विकलांगता प्रमाण पत्र
  • क्षतिपूर्ति बॉन्ड
  • हेयर डिटेल रिपोर्ट
  • बीमा निर्देशक द्वारा पूछे गए अन्य प्रमाण पत्रों की कॉपी

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना में आवेदन करने के लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है आप घर बैठे ही इसकी ऑफिशियल वेबसाइट के द्वारा आवेदन कर सकते हैं। या फिर ई-मित्र की सहायता से भी मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना में आवेदन कर सकते हैं।

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 का आवेदन करने की प्रक्रिया

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2022 में आवेदन करने की प्रक्रिया निम्न है।

  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको कृषि विभाग में जाना होगा।
  • यहां से मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का फॉर्म लेकर उसमें अपने डिटेल भर के जमा करा दे।
  • इस फॉर्म को जमा कराने के साथ में ही आवश्यक डाक्यूमेंट्स की फोटो कॉपी भी लगाएं।
  • फॉर्म जमा होने के बाद एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट आपके फॉर्म का वेरिफिकेशन(सत्यापन) करेगा,

इस तरह से आप ऑफलाइन राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का आवेदन कर सकते हैं।

Join Telegram

Latest article

spot_img

More article