informationब्लैक फंगस के बारे में सम्पूर्ण जानकारी | ब्लैक फंगस क्या है...

ब्लैक फंगस के बारे में सम्पूर्ण जानकारी | ब्लैक फंगस क्या है , लक्षण और सावधानिया एवं बचाव What is black fungus, symptoms and precautions and prevention

Black fungus advisory

ब्लैक फंगस को लेकर सरकार ने एडवाइजरी जारी कर दी है जिसमें कहा गया है कि कोविड-19 संक्रमण के उपरांत मरीजों में ब्लैक फंगस फेल रहा है जिसके बारे में संपूर्ण जानकारी, लक्षण, उपाय और सावधानियां आदि बातें यहां इस आर्टिकल में बताई गई है।

ब्लैक फंगस [ म्यूकरमाइकोसिस ] क्या है What is black fungus

ब्लैक फंगस गंभीर और दुर्लभ फंगल संक्रमण है जो म्यूकोर्मिसेट्स नामक मोल्डो के समूह के कारण होता है यह मोल्ड पूरे वातावरण में फैले रहते हैं। ब्लैक फंगस कोविड-19 संक्रमण के उपरांत चेहरे, नाक साइनस आंख और दिमाग में भी फेलकर फिर कर उसको नष्ट कर देते हैं ब्लैक फंगस सर्वाधिक रूप से जबड़ों व आंखों को नुकसान पहुंचा रहा है जिसके कारण आँखों और जबडों को बाहर निकालने की नौबत आ रही है कोविड के बाद ब्लैक फंगस यानी म्यूकरमाइकोसिस ने पूरे देश में पैर पसारने शुरू कर दिए हैं ।

ब्लैक फंगस के लक्षण Symptoms of black fungus

  • चेहरे में एक तरफ दर्द होता है सूजन तथा वह अंग विशेष सुन्न हो जाता है अतः छुने पर छुने का एहसास नहीं होता है 
  • दांतों में दर्द था दांत हिलने लगते हैं और चबाने में दर्द होता है
  • उल्टी यां खांसने पर बलगम में खून आता है
  • आंखों में लालपन छा जाता है और आंखों में बहुत तेज दर्द होता है
  • खांसी , सिर दर्द, बुखार
  • सांस में तकलीफ
  • स्पष्ट दिखाई नहीं देता अर्थात धुंधला दिखाई देता है।

ब्लैक फंगस किसे हो सकता है

  • ब्लैक फंगस या म्यूकरमाइकोसिस सर्वाधिक रूप से कोरोना से ठीक हुए व्यक्तियों में हो रहा है जो व्यक्ति डायबिटीज या मधुमेह के रोगी हैं तथा जिन्होंने कोविड के दौरान स्टीरॉयड दवा ली हो उनमें अधिकांश इसके लक्षण दिखाई दे रहे हैं।
  • स्टीरॉयड दवाओं के नाम- डेक्सामिथाजोन, मिथाइल प्रेड़नीसोलोन इत्यादि
  • covid मरीज को ऑक्सीजन पर रखना पड़ा हो या आईसीयू में रखना पड़ा हो उन्हें भी यह हो सकता है
  • ऐसे patient जिनकी किडनी ट्रांसप्लांट ,कैंसर आदि से संबंधित दवाई चल रही हो।

ब्लैक फंगस से बचाव के उपाय Black fungus prevention tips

ब्लैक फंगस से संबंधित कोई भी लक्षण दिखाई देने पर तुरंत सरकारी अस्पताल में या किसी अन्य विशेषज्ञ डॉक्टर को दिखाएं

नाक ,कान ,गले, आंख ,मेडिसिन चेस्ट या प्लास्टिक सर्जरी विशेषज्ञ को दिखाएं तथा लगातार इलाज करवाएं।

ब्लैक फंगस से रखी जाने वाली सावधानियां Black fungus precautions

स्वयं या किसी गैर विशेषज्ञ डॉक्टर के या दोस्त और रिश्तेदार के कहने पर स्टेरॉयड दवा नहीं ले। स्टेरॉयड दवाएं जैसे डेक्सोना मेडरॉल इत्यादि।

स्टेरॉयड का प्रयोग विशेषज्ञ डॉक्टर कुछ ही मरीजों को केवल 5 से 10 दिन के लिए देते हैं वह भी बीमारी शुरू होने के 5-7 दिन बाद इससे पहले बहुत सी जांच आवश्यक है जो केवल विशेषज्ञ की देखरेख में ही की जानी चाहिए।

ब्लैक फंगस एक महामारी Black fungus an epidemic

19 मई 2021 को राजस्थान सरकार ने जानलेवा संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए ब्लैक फंगस को महामारी घोषित कर दिया है।
राजस्थान महामारी अधिनियम- 2020 की धारा 3 के उप धारा 4 के तहत ब्लैक फंगस को राज्य में महामारी घोषित कर दिया इससे पहले 17 मई 2021 को हरियाणा सरकार ने भी ब्लैक फंगस को महामारी घोषित किया है और निर्देश दिए कि पालन नहीं होने पर दंडनीय कार्रवाई की जाएगी।
राजस्थान के चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग मैं अधिसूचना जारी की गई तथा प्रमुख चिकित्सा शासन सचिव अखिल अरोड़ा ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के प्रभाव के कारण ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है।

Latest article

More article