careerपायलट कैसे बने | पायलट के लिए आवेदन प्रक्रिया और प्रवेश प्रक्रिया...

पायलट कैसे बने | पायलट के लिए आवेदन प्रक्रिया और प्रवेश प्रक्रिया सीपीएल कोर्स 2021

पायलट कैसे बने पूरी जानकारी , योग्यताएं , परीक्षा प्रक्रिया , कोर्स की अवधि, फीस , पायलट की सैलरी

पायलट क्या है What is a pilot in hindi

भारतीय वायुसेना पायलट बनाने के लिए अवसर प्रदान करते हैं जिसमें परीक्षा के लिए विभिन्न चरणों को पास करके इस पद को हासिल किया जाता है पायलट, हवाई जहाज चालक होता है जो कि हवाई जहाज संचालन उचित तरीके से करता है एक पायलट मे पॉजिटिविटी, मानसिक रूप से स्वस्थ, दृढ़ संकल्प, आदि गुण होना चाहिए पायलट बनने के लिए दृढ़ संकल्प आत्मविश्वास विश्वास और फिटनेस होना जरूरी है

अगर आप भी पायलट बनना चाहते हैं तो यह आर्टिकल बहुत ही फायदेमंद साबित होगा इसमें पायलट बनने के बारे में विस्तार से बताया गया है पायलट की सैलरी बहुत अधिक होती है और उनकी लाइफस्टाइल भी रॉयल होती है अगर आप पायलट बनने का सपना देख रहे हैं तो आप सही दिशा में जा रहे हैं पायलट बनने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें जहां से आप पायलट के बारे में संपूर्ण जानकारी जुटा सकते हैं पायलट एक आकर्षक कैरियर विकल्प है जिसमें अच्छे वेतन के साथ सामाजिक प्रतिष्ठा भी है

पायलट बनने के लिए योग्यताएं ( Qualifications to become a pilot in hindi )

आवेदक फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स 12 वीं पास होना चाहिए साथ ही इन सब्जेक्ट में 50 परसेंट अंकों से पास होना जरूरी है कोर्स ज्वाइन करते समय अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 17 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए कमर्शियल पायलट बनने के लिए आयु सीमा 18 से 32 वर्ष एयरपोर्ट पायलट बनने के लिए 16. 5 वर्ष से 19 वर्ष तथा 20 से 24 वर्ष होना चाहिए आई विजन 6/6 होना चाहिए इंग्लिश बोलना आना चाहिए तथा कद कम से कम 5 फिट होना चाहिए

पायलट दो प्रकार के होते हैं कमर्शियल पायलट और एयर फोर्स पायलट

कमर्शियल पायलट कैसे बने (How to become a commercial pilot in hindi )

कमर्शियल पायलट बनने के 2 तरीके है 1. दसवीं पास करने के बाद फ्लाइंग स्कूल में एडमिशन ले 2. कैडेट पायलट प्रोग्राम द्वारा

कमर्शियल पायलट के लिए परीक्षा प्रक्रिया ( Examination Procedure for Commercial Pilot in hindi )

प्रवेश के लिए ऑनलाइन रिटन टेस्ट, इंटरव्यू एवं पायलट एप्टिट्यूड टेस्ट तथा साइकोमेट्रिक टेस्ट में सफलता हासिल करना जरूरी है

कमर्शियल पायलट के लिए सिलेबस टेस्ट में जनरल इंग्लिश, मैथमेटिक्स ,फिजिक्स एवं करंट अफेयर्स पर केंद्रित 12 वीं स्तर के ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते हैं

कमर्शियल पायलट कोर्स की अवधि ( Commercial Pilot Course Duration )

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी मैं कमर्शियल पायलट लाइसेंस सीपीएल कोर्स की 120 सीटें, कोर्स की अवधि 24 माह या 2 वर्ष है अभ्यर्थी 3 वर्षीय बीएससी डिग्री का भी विकल्प चुन सकते हैं ‌ जिसे CPL कोर्स के साथ-साथ आयोजित किया जा सकता है| 

कमर्शियल पायलट भर्ती करवाने वाली संस्था ( Commercial Pilot Recruitment Organization )

सीपीएल(CPL) कमर्शियल पायलट लाइसेंस कोर्स का नोटिफिकेशन आई जी आर यू ए (IGRUA) इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी द्वारा जारी किया जाता है

इंडियन एयर फोर्स पायलट कैसे बने ( How to become an Indian Airforce pilot in hindi )

एयरफोर्स पायलट बनने की योग्यताएं कमर्शियल पायलट की योग्यताओं के समान ही है।
इंडियन एयरफोर्स पायलट बनने के चार विकल्प होते हैं
1. NDA -national defence academy
2. CDSE-combined defence service exam
3. NCC- national cadet corps
4. SSCE-Short service commission entry
इंडियन एयर फोर्स पायलट की परीक्षा यूपीएससी द्वारा आयोजित की जाती है उसकी ट्रेनिंग 3 साल की होती है ट्रेनिंग के बाद उम्मीदवार पीसीओ के रूप में इंडियन एयर फोर्स स्टेशन में पायलट के तौर पर नियुक्ति पाता है

पायलट कोर्स की फीस ( Pilot course fee )

फ्लाइंग स्कूल की 30 से 40 लाख रुपए सीपीएल की फीस 60 से 80 लाख रुपए CPP cadet pilot programme की फीस 80 लाख से 1 करोड रुपए हैं

पायलट की सैलरी ( Pilot’s salary )

कैप्टन की सैलरी 6 लाख से 12लाख रुपए
सीनियर फर्स्ट ऑफिसर की सैलरी 3.5 लाख रुपए
फर्स्ट ऑफिसर की ₹200000 जूनियर फर्स्ट ऑफिसर की सैलरी 50000 से ₹100000 हैं

इस तरह आप पायलट बनकर अपना सपना पूरा कर सकते हैं पायलट की जॉब एक अच्छी जॉब है जिनकी सैलरी भी काफी अच्छी होती है और उनकी लाइफ भी रोमांचक होती है अगर आप भी पायलट बनना चाहते हैं तो दृढ़ संकल्प आत्मविश्वास के साथ आज ही जुट जाओ।

Latest article

More article