Tech And Computerडाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम database management systems in hindi

डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम database management systems in hindi

डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम database management systems

सरलतम शब्दों में, डाटाबेस सूचनाओं (या डाटा ) का एक ऐसा व्यवस्थित संग्रह (Organised Collection) होता है जिसमें हम किसी भी सूचना को सरलता से प्राप्त कर सकते हैं। एमएस-एक्सेल डाटाबेसों में प्रयोग किए जाने वाले कुछ शब्द और उनका तात्पर्य इस प्रकार है:

डाटाबेस रेंज (Database Range)

किसी वर्कशीट की रेंज में डाटाबेस बना होता है (अर्थात् डाटा भरा होता है) उसे डाटाबेस रेंज कहा जाता है। एमएस-एक्सेल ज्यादातर स्वयं ही डाटाबेस रेंज तय कर लेता है।

रिकॉर्ड (Record)

एक्सेल में डाटाबेस रेंज की प्रत्येक पंक्ति को एक रिकॉर्ड माना जाता है। डाटा बेस रेंज की पहली पंक्ति (यहां दूसरी पंक्ति) में हमेशा कालमों के शीर्षक भरे जाने चाहिए, जिनका प्रयोग एक्सेल डाटाबेस के फील्ड नामों की तरह करता है। इन फील्ड नामों में बीच में रिक्त स्थान भी हो सकते हैं।

फील्ड (Field)

एमएस-एक्सेल में किसी डाटाबेस के प्रत्येक कॉलम को एक फील्ड कहा जाता है। प्रत्येक अकेले सेल को भी फील्ड ही माना जाता है। आप किसी फील्ड में पाठ्य, संख्या, तारीखें, फंक्शन और फार्मूले भर सकते हैं। जब किसी फील्ड में कोई फंक्शन या फार्मूला भरा होता है, तो उसे गणनाकृत फील्ड (Com puted Field) कहा जाता है।

डाटाबेस मैनेजमेन्ट की विशेषताएं Features of Database Management

साधारण डेटाबेस से डाटाबेस मैनेजमेन्ट निम्न प्रकार से भिन्न है

ऑपरेशन मोड (Operation modes) : इसमें हम Command driven mode menu driven mode a programme driven mode का प्रयोग करते हैं। कुछ डाटाबेस में ये तीनों modes का समन्वय होता है।

कमाण्ड मोड (The command mode) : प्रयोग करने वाला इसमें डाटाबेस मैनेजमेंट प्रणाली को देता है और इसके लिए विशेष प्रकार के तकनीकी ज्ञान की जरूरत होती है। इस कारण यह लोगों में पॉपुलर नहीं है।

मीन्यू ड्राइवेन मोड (Menu driven mode) : इस प्रणाली में सारी choice स्क्रीन पर दिखाई देती है और प्रयोग करने वाला आसानी से अपना काम कर सकता है। इसके लिए विशेष तकनीकी ज्ञान की जरूरत नहीं होती थी।

प्रोग्राम मोड (Program mode) : जब बृहत्त डाटा प्रोसेसिंग की जरूरत है, तब यह mode प्रयोग में लाया जाता है।

डाटा ऐसेस (Data Access) : डाटाबेस सिस्टम में डाटा का access सहज तरीके से होना चाहिए। इसमें डाटा का modification, adding, searching एवं रिपोर्ट की तैयारी सहजता से होनी चाहिए।

हेल्प फेसिलिटी (Help fecility) : इस व्यवस्था में प्रयोग करने वाले को on line मदद मिलती है। डाटाबेस मैनेजमेंट में खर्च कम होते हैं तथा security एवं Privacy भी बरकरार रहती है।

विभिन्न प्रकार के फाईल (Types of File)

1. सिकुएनसियल फाईल (Sequential File) : इस प्रकार के File में records जिस order में में रखा गया है उसी order में देखना जरूरी है। किसी रिकॉर्ड को by pass नहीं किया जा सकता।

अगर फाइल में कुछ update करना हो तो फाइल को दोबारा लिखना पड़ेगा।

2. रेनडम ऐसेस फाइल (Random Ac (cess Files) : इससे कहीं भी कुछ भी देखा जा सकता है। जैसे रेल आरक्षण के लिए बुकिंग स्थिति की जानकारी सेकेण्ड के अन्दर आती है। दो तरह के random file होते हैं। 1. Indexed file 2. In dex sequential file

FAQ

Database Management System की विशेषताएं

साधारण डेटाबेस से डाटाबेस मैनेजमेन्ट निम्न प्रकार से भिन्न है
ऑपरेशन मोड (Operation modes)
कमाण्ड मोड (The command mode)
मीन्यू ड्राइवेन मोड (Menu driven mode)
प्रोग्राम मोड (Program mode)
डाटा ऐसेस (Data Access)
हेल्प फेसिलिटी (Help fecility)

डीबीएमएस क्या है

डाटाबेस सूचनाओं (या डाटा ) का एक ऐसा व्यवस्थित संग्रह (Organised Collection) होता है जिसमें हम किसी भी सूचना को सरलता से प्राप्त कर सकते हैं।

Latest article

More article